Health Tips

इन चीजों को खाने से आंखें रहेंगी स्वस्थ

आजकल जिसे देखो वही चश्मा लगाए दिखता है। खराब जीवनशैली और खानपान से कम उम्र में ही आंखों की सेहत पर बुरा असर पड़ता है। जाने किन चीजों को खाने से आंखें दुरुस्त रहेगीं।


आंवला व अन्य : विटामिन सी से युक्त आंवला यदि रोज खाया जाए तो आंखें दुरुस्त और रोशनी तेज हो सकती है। इसके अलावा इससे जूस बनाने, मरब्बा, चटनी आदि के रूप में भी प्रयोग किया जाता है। खट्टे फलों की श्रेणी में मौसमी, निम्बू ऐसी चीजें हैं जिन्हें आहार के रूप में शामिल किया जा सकता है। साबुत अनाज, कद्दू के बीज, मक्खन, पपीता आदि खा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें :- ह्रदय की समस्या व लो बीपी बचाने में मददगार योगासन


हरी पत्तीदार सब्जियों : पालक, मेथी, धनिया, बथुआ, गाजर, टमाटर आदि में मौजूद आयरन और केरोटेनॉइड्स तत्व से आंखें स्वस्थ रहती है। इससे रेटिना को मजबूत मिलती है।


सूखे मेवे व फल : अखरोट, बादाम, गाजर, किशमिश, खुबानी, मक्का, मूंगफली, पपीता, केला, अनार आदि में एंटीऑक्सीडेंट, ओमेगा-3 फैटी एसिड्स व अन्य मौजूद तत्व आंखों से जुड़े रोगों को दूर कर इनकी सेहत को सही बनाए रखते है। नियमित 1-2 मुनक्का भी सुबह के समय दूध के साथ खा सकते हैं।

दिन की शुरुआत गर्म पानी से करें खानपान संतुलित रखें

सुबह उठने के बाद सबसे पहले एक से दो गिलास गुनगुना पानी पिए। रिफ्रेश होकर पीके बादाम और अखरोट खाएं सुबह उठने के दो-तीन घंटे के अंदर कम वसायुक्त दूध के साथ उपमा दलिया इटली ब्रेकफास्ट ले दोपहर से पहले मौसम की फूट नारियल पानी दे हर 2 माह में खाद्य तेल बदले नस में सलाद चपाती दही दो कटोरी सब्जी अंकुरित मेथी ले सकते हैं सीट के लिए जाते हैं।

आयुर्वेद आहार : चिकनाई युक्त वापस लेने बारिश से परहेज करें सुबह शाम अर्जुन की छाल का काढ़ा पिए। नियमित लौकी का जूस आंवला सालासर अश्वगंधा गूगल दूध के साथ अश्वगंधा चूर्ण या दूध में लहसुन डालकर पीने से फायदे संधि तकलीफ में आराम मिल सकता है।

इसे भी पढ़ें :- घर के अंदर मौजूद वायु प्रदूषण से बचाव जरूरी

लाफिंग थेरेपी से हार्ट मजबूत

इससे राखी एक काम होता है अनुप्रिया रसायन निकलने से हड्डियां मजबूत बनता है रात में लाची तेरे पीछे शुगर लेवल भी में फायदा करता है।

Avatar
sunil jaat
हैलो दोस्तों मेरा नाम सुनील जाट है। इस वेबसाइट पर आपको रोजाना कुछ नया देखने को मिलेगा। जैसे - मोटिवेशनल स्टोरी, एजुकेशनल न्यूज एवं अन्य जानकारी। Contact Email - [email protected]
https://www.indianarmybharti.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *